चलो माँ का श्रृंगार करें

श्रद्धा सुमन हृदय से चुनकर

गूंथ माँ को अर्पित पुष्प हार करें

चलो माँ का श्रृंगार करें

टांक सितारा चुनरी लाई हूँ

पढ़ना जारी रखें “चलो माँ का श्रृंगार करें”

हमको ऐसा दो वरदान

हे भगवान्, हे भगवान
हमको ऐसा दो वरदान

मति को मेरे उक्ति दे दो
मन की मुझको शक्ति दे दो
हारे अन्तः का शैतान
हमको ऐसा………………..

पढ़ना जारी रखें “हमको ऐसा दो वरदान”

दया करो माँ

दया करो माँ अम्बे भवानी

बुद्धि का पट खोल दो माँ
वर अपना अनमोल दो माँ
आत्मबोध करवा दो माँ
कि मैं मुर्खा बन जाऊँ सयानी
दया करो माँ………………….

पढ़ना जारी रखें “दया करो माँ”

भोले बाबा करो कल्याण

भोले बाबा हमें दो वरदान
तुम्हारे दर आये हैं
भोली भक्तिन का रख लो मान
तुम्हारे दर आये हैं

पढ़ना जारी रखें “भोले बाबा करो कल्याण”