आदत नहीं है

दर्दे दिल को जताने की आदत नहीं है,
बेवजह यूँ सताने की आदत नहीं है |

छोड़ देती मैं भी बात करना मगर,
मुझे रूठ जाने की आदत नहीं है |

लाई अब तक समेटे तेरे प्यार को,
यूँ ही ठुकराने की आदत नहीं है |

भूलूँ कैसे तूझे बोल दे अब तू ही ,
कि मुझे भूल जाने की आदत नहीं है |

करले तू सितम जितना भी सनम,
मुझे घबराने की आदत नहीं है!

सभी कसमें निभाये मैंने की मुझे ,
वचन झुठलाने की आदत नहीं है |

जाओ तुझपर किया मैंने फिर से यकीं ,
कि मुझे आजमाने की आदत नहीं है |

तेरी हर खुशी मेरी भी है खुशी,
अतः जलने जलाने की आदत नहीं है |

मानती है किरण बात तेरी सभी ,
क्योंकि बात बढ़ाने की आदत नही है |

4 विचार “आदत नहीं है&rdquo पर;

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

w

Connecting to %s